Desh Bhakti shayari In Hindi | देशभक्ति शायरी हिन्दी

 

Desh Bhakti shayari In Hindi | देशभक्ति शायरी हिन्दी


यही है गंगा, यही हैं हिमालय, यही हिन्द की जान है
और तीन रंगों में रंगा हुआ ये अपना हिन्दुस्तान हैं।
 
Yahi Hai Ganga yahi Himalaya, Yahi Hind Ki Jaan Hai

Aur Teen Rango Me Ranga Hua Ye Apna Hindustan Hai

हम मर भी जाए तो कोई गम नही लेकिन,
मरते वक्त मिट्टी हिन्दुस्तान की हो
 
Hum Mar Bhi Jaayein Toh Koi Gum Nahi Lekin

Marte Wakt Mitti Hindustaan Ki Ho

वतन की सर बुलंदी में, हमारा नाम हो शामिल,
गुजरते रहना है हमको, सदा ऐसे मुकामो से
 
Watan Ki Sar Bulandi Me, Hamara Naam Ho Shamil

Gujarate Rehana Hai Hamko, Sada Aise Mukaamon Se
 

Desh Bhakti Shayari Hindi Me


जान लुटा देंगे वतन पे हो जायेंगे कुर्बान,
इसलिए हम कहते हैं मेरा भारत महान

Jaan Luta Denge Watan Pe Ho Jayenge Kurbaan

Isliye Hum Kehate Hai Mera Bharat Mahaan
 
अब तो मेरी कलम भी रो पड़ी है,
शहीदों की शहादत लिखते लिखते
 
Ab Toh Meri Kalam Bhi Ro Padi Hai

Shahidon Ki Shahadat Likhte-Likhte
 
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान पर
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिन्दुस्तान पर
 
Le Lenge Uski Jaan Ya De Denge Apni Jaan

Koi Jo Uthayega Aankh Hamare Hindustaan Par
 

Desh Bhakti Shayari Download


जश्न आज़ादी का मुबारक हो देश वालों को,
फंदे से मोहब्बत थी वतन के मतवालो को
 
Jashn Azaadi Ka Mubarak Ho Desh Waalon Ko

Fande Se Mohabbat Thi Watan Ke Matwalon Ko
 
हम अपने खून से लिखेंगे कहानी ऐ वतन मेरे,
करे कुर्वान हंस कर ये जवानी ऐ वतन मेरे
 
Hum Apne Khoon Se Likhenge Kahani Ae Watan Mere

Kare Kurbaan Haskar Ye Jawani Ae Watan Mere
 
और भी खूबसूरत और भी ऊंचा मेरे देश का नाम हो जाये,
काश कि हर हिंदू विवेकानंद और हर मुस्लिम कलाम हो जाये
 
Aur Bhi Khoobsurat  Aur Bhi Uncha Mere Desh Ka Naam Ho Jaaye

Kash Ki Har Hindu Vivekanand Aur Har Muslim Kalaam Ho Jaaye
 
उनके हौसले का भुगतान क्या करेगा कोई
उनकी शहादत का क़र्ज़ देश पर उधार है
 
Unke Hausale Ka Bhugtaan Kya Karega Koi

Unki Shahadat Ka Karz Desh Par Udhaar Hai
 

Desh Bhakti Shayari Image


भारत की फजाओं को सदा याद रहूँगा,
आजाद था, आजाद हूँ, आजाद रहूँगा
 
Bharat Ki Fazaon Ko Sada Yaad Rahunga

Azaad Tha, Azaad Hu, Azaad Rahunga
 
इश्क तो करता है हर कोई, महबूब पर मरता है हर कोई,
कभी वतन को महबूब बना कर देखो, फिर तुझ पर मरेगा हर कोई
 
Ishq Toh Karta Hai Har Koi, Mehboob Par Marta Hai Har Koi

Kabhi Watan Ko Mehboob Bana Kar Dekho, Phir Tujh Par Marega Har Koi
 
न पूछो ज़माने को, क्या हमारी कहानी है,
हमारी पहचान तो सिर्फ ये है, की हम सिर्फ हिन्दुस्तानी हैं

N Pucho Zamane Ko, Kya Hamari Kahani Hai

Hamari Pehchaan Toh Sirf Ye Hai, Ki Hum Sirf Hindustaani Hai

Desh Bhakti Shayari In Hindi Language


लहू देकर जिसकी हिफाज़त की शहीदों ने,
उस तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना

Lahu Dekar Jiski Hifazat Ki Shahidon Ne

Us Tirange Ko Sada Dil Me Basaye Rakhna

मैं मुल्क की हिफाजत करूँगा ये मुल्क मेरी जान है

इसकी रक्षा के लिए मेरा दिल और जान कुर्बान है
 
Mai Mulk Ki Hifazat Karunga Ye Mulk Meri Jaan Hai

Iski Raksha Ke Liye Mera Dil Aur Jaan Kurbaan Hai

मुझे तन चाहिए न धन चाहिए,
बस अमन से भरा ये वतन चाहिए

Mujhe Tan Chahiye N Dhan Chahiye

Bas Aman Se Bhara Ye Watan Chahiye



Read More - 


    Desh Bhakti shayari In Hindi | देशभक्ति शायरी हिन्दी Desh Bhakti shayari In Hindi | देशभक्ति शायरी हिन्दी Reviewed by Feel neel on December 12, 2020 Rating: 5

    No comments:

    Powered by Blogger.