Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी (Do Line Shayari)


शौक-ए-सफ़र कहाँ से कहाँ ले गया हमें,
हम जिस को छोड़ आये हैं मंजिल वही तो थी
 
Shauk-e-Safar Kahan Se Kahan Le Gaya Hamein

Hum Jisko Chod Aaye Hai Manzil Wahi Toh Thi

पिछले बरस ये खौफ था कि- तुझको खो ना दूँ
अब के बरस ये दुआ है कि- तेरा सामना न हो


Pichle Baras Ye Khauf Tha Ki Tujhko Kho Na Du

Ab Ke Baras Ye Dua Hai Ki Tera Saamana N Ho

हकीकत की रस्सियों पे लटककर
ना जाने कितने ही ख्वाब खूदखुशी कर गये


Haqiqat Ki Rassiyon Pe Latak Pe Rassiyon Pe Latakkar

Na Jaane Kitne Hi Khwaab Khudkushi Kar Gaye
 

Two Line Shayari In Hindi On Life

Two Line Status Shayari

 

दुआयों पे इतना यक़ीन है तो साहिब
सभी अस्पतालों पे ताला लगा दो


Duaaon Pe Itna Yakeen Hai Toh Saahib

Sabhi Aspataalon Pe Taala Laga Do

जब कोई पूछेगा मेरी मोहब्बत की कहानी
तो हम कहेंगे, मुलाकात को तरस गए

 
Jab Koi Puchega Meri Mohabbat Ki Kahani

Toh Hum Kahengem Mulakaat Ko Taras Gaye

लैला अब नहीं थामती किसी बेरोज़गार का हाथ
मजनू को अगर इश्क़ हो तो .. कमाने लग जाए


Laila Ab Nahi Thamati Kisi Berojgaar Ka Hath

Majnu Ko Agar Ishq Ho Toh..Kamane Lag Jaaye

नेट ईजाद हुआ हिज्र के मारों के लिए
सर्च इंजन है बड़ी चीज़ कुँवारों के लिए


Net Ijaad Hu Hizr Ke Maaron Ke Liye

Search Engine Hai Badi Chiz Kuwaaron Ke Liye
 

Two Line Hindi Shayari

Short Hindi Shayari


हम उस तकदीर के पसंदीदा खिलौने है
जिन्हें वो रोज़ जोड़ती है तोड़ने के लिए

 
Hum Us Takdeer Ke Pasandida Khilaune Jai

Jinhe Wo Roz Jodati Hai Todane Ke Liye

रो रहा था एक लड़का और कहा अपने यारो से
ये बुजुर्गों की पगड़ियां ना जाने कितनों की मोहब्बत खा गई


Ro Raha Tha Ek Ladka Aur Kaha Apne Yaaron Se

Ye Bujurgo Ki Pagadiyan Na Jaane Kitno Ki Mohabbat Kha Gayi

Two Line Shayari In Hindi Font

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी


फुरसत अगर मिले तो मुझे पढना ज़रूर,
मैं नायाब उलझनों की मुकम्मल किताब हूँ


Fursat Agar Mile To Mujhe Padhana Zaroor

Mai Nayaab Uljhanon Ki Muqammal Kitaab Hu

क्या कहा ..इश्क़ मर गया ?
ऐलान करवाओ .. कल दावत है

 
Kya Kaha..Ishq Mar Gaya?

Ailaan Karwaao Kal Dawat Hai

मुझे फ़क़त झुमकों से इश्क़ है मोहतरमा
बरेली आप के लिए नही आता

 
Mujhe Fakat Jhumako Se Ishq Hai Mohatarama

Bareli Aap Ke Liye Nahi Aata

तुम नज़र अंदाज़ करके थक जाओगे
और हम आराम से तेरा इंतेजार करेंगे


Tum Nazar Andaaz Karke Thak Jaaoge

Aur Hum Se Tumhara Intezaar Karenge

चाँद भी हैरान दरिया भी परेशानी में है!
अक्स किस का है कि इतनी रौशनी पानी में है

 
Chand Bhi Hairaan, Dariya Bhi Pareshaani Me Hai

Aks Kis Ka Hai Ki Itni Raushani Paani Me Hai

मोहब्बत तो सांवलेपन में ही होती है
गोरे तो तब भी फरेबी था और आज भी

 
Mohabbat Toh Sawalepan Me Hi Hoti Hai

Gore Toh Tab Bhi Farebi The Aur Aaj Bhi

Two Line Love Shayari

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 

रो पड़ी एक दूजे के हाल पर
मजहब और इंसानियत की जब मुलाकात हुई

 
Ro Padi Ek Dooje Ke Haal Par

Majhab Aur Insaaniyat Ki Jab Mulakaat Hui

उस के खत रात भर पढता हूँ यूँ
जैसे कल इम्तिहान हो मेरा


Us Ke Khat Raat Bhar Padhata Hu Yun

Jaise Kal Imtihaan Ho Mera

मसला ये नही कि- दर्द कितना है
मुद्दा ये है कि - परवाह किसको है


Masla Ye Nahi Dard Kitna Hai

Mudda Ye Hai Ki Parwaah Kisko Hai

अब जीत भी जाऊं तो दिल खुश नहीं होता
जिस शख्स को हारा है वो अनमोल बहुत था


Ab Jeet Bhi Jaun Toh Dil Khush Nahi Hota

Jis Shaksh Ko Haara Hai Wo Anmol Bahut Tha

उसने रखा है मुँह पर दुपट्टा ऐसे तानकर
दे रही हो शरबत ए दीदार जैसे छानकर

 
Usne Rakha Hai Muh Par Dupatta Aise Taankar

De Rahi Ho Sharbat-e-Deedar Jaise Chaankar

ये कैसा दर्द है लिखता है रोशनाई बनकर
सदा ए मातम सुना रहा है वो शहनाई बन कर

 
Ye Kaisa Dard Hai Likhata Hai Roshnaai Bankar

Sada-eMatam Suna Raha Hai Wo Shehnaai Bankar
 

Two Line Shayari In Hindi Font On Facebook

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 

ये क्या कि एक तौर से गुजरे तमाम उम्र,
जी चाहता है अब कोई तेरे सिवा भी हो

 
Ye Kya Ki Ek Taur Se Guzare Tamaam Umr

Ji Chahata Hai Ab Koi Tere Siva Bhi Ho

किसी ने मुझसे कहा,आप की आँखे बड़ी खूबसूरत है,
मैंने कहा, बारिश के बाद अक्सर मौसम सुहाना हो जाता है


Kisi Ne Mujhse Kaha Aap Ki Ankhe Badi Khoobsurat Hai

Maine Kaha Barish Ke Baad Aksar Mausam Suhaana Ho Jaata Hai

कही होकर भी नहीं हूँ और कही न होकर भी हूँ,
बड़ी कशमकश में हूँ कि कहाँ हूँ और कहाँ नहीं हूँ


Kahi Hokar Bhi Nahi Hu Aur Kahin Hokar Bhi Nahi Hu

Badi Kashmkash Me Hu Ki Kaha Hu Aur Kahan Nahi Hu

एक टीका बचपन में मोहब्बत का भी लगाना था
सबसे ज्यादा मरीज़ तो इसी बीमारी के हैं


Ek Teeka Bachpan Me Mohabbat Ka Bhi Lagana Tha

Sabse Jyada Mareez Toh Isi Bimaari Ke Hai

नजर लगती है हर खूबसूरत चीज को
काला धागा बांध दे कोई मेरे इश्क को


Nazar Lagati Hai Har Khoobsurat Cheez Ko

Kaala Dhaaga Baandh De Koi Mere Ishq Ko

Two Line Shayari On Zindagi

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी


हज़ारों खामियां हैं मुझे में ... और मुझे मालूम भी है
पर एक शख्स है नासमझ ... मुझे बेहतरीन कहता है

 
Hazaron Khamiyan Hai Mujhme...Aur Mujhe Maloom Bhi Hai

Par Ek Shaksh Hai Na-Samajh...Mujhe Behatarin Kehta Hai
 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी


क्या तुम उस वक़्त मिलने आओगे
साँस जब घर बदल रही होगी

 
Kya Tum Us Wakt Milne Aaoge

Sans Jab Ghar Badal Rahi Hogi

रोज़ होती रहेगी मुलाकात तुमसे
नजरो से दूर हो, दिल से नही

 
Roz Hoti Rahegi Mulakaat Tumse

Nazaron Se Door Ho, Dil Se Nahi

ये शायरियाँ भी बड़ी वफादार होती है यारों
उसी के हाथ सजती है जिसके दर्द बोलते हों


Ye Shayariyan Bhi Badi Wafadaar Hoti Hai Yaar

Usi Ke Hath Sjati Hai Jiske Dard Bolte Ho

तेरे हुस्न की तपिश कहीं जला ना दे मुझे,
तू कर मुहब्बत मुझसे जरा आहिस्ता आहिस्ता

 
Tere Husn Ki Tapish Kahin Jala Na De Mujhko

Tu Kar Mohabbat Mujhse Zara Aahista-Aahista
 

Best Two Line Shayari Ever


घोंसला बनाने में यूँ मशगूल हो गए
कि- उड़ने को पंख भी है भूल गए

 
Ghosala Banane Me Yun Masgool Ho Gaye

Ki Udane Ko Pankh Bhi Hai Bhool Gaye

पूरी उम्र ज़ाया कर दी दूसरों में नुक़्स निकलते निकलते,
इतना खुद को तराशा होता तो खुदा होते

 
Puri Umr Jaaya Kr Di Dusron Me Nuks Nikalte-Nikalte

Itna Khud Ko Tarasha Hota Toh Khuda Hota

मोहब्बत जुर्म नहीं अगर की जाये उसूलों से
मोहब्बत तो खुदा ने भी की है अपने रसूलों से


Mohabbat Zurm Nahio Agar Ki Jaaye Usoolon Se

Mohabbat Toh Khuda Ne Bhi Ki Thi Apne Rasoolon Se

इश्क़ की आग में तपते ही रहे हम
तुमने फेरी जो नज़र और सुलगने लगे


Ishq Ki Aag Me Tapate Hi Rahe Hum

Tumne Feri Jo Nazar Aur Sulagane Lage

कर दिया इज़हार-ए-इश्क़ हमने टेलिफ़ोन पर
लाख रुपए की बात थी, दो रुपए में हो गयी


Kar Diya Izhaar-eIshq Humne Telephone Par

Lakh Rupaye Ki Baat Thi, Do Rupaye Me Ho Gayi
 

Sad Two Line Shayari

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी


"आरती" बहकर हवा में घुल गई "अज़ान" से
एक अलग "खुशबू" आती है मेरे "हिंदुस्तान" से

 
Aarati Behkar Hawa Me Ghool Gayi Ajaan Se

Ek Alag Khusbu Aati Hai Mere Hindustaan Se
 
यादों की किताब उठाकर देखी थी मैंने
पिछली साल इस दिन तुम मेरे थे
 
Yadon Ki Kitaab Uthakar Dekhi Thi Maine

Pichli Saal Isi Din Tum Mere The
 
लोग तो निकाह के बाद भी छोड़ जाते है
बिन्त-ए-हवा तुम यादों पर रो रही हो
 
Log Toh Nikaah Ke Baad Bho Chod Aate Hai

Bint-e-Hawa Tum Yadon Par Ro Rahi Ho
 
अकेला आदमी मोहब्बत की नज़्म लिख सकता है
दो लोग मोहब्बत की नज़्म जी सकते है
 
Akela Aadmi Mohabbat Ki Nazam Likh Sakta Hai

Do Log Mohabbat Ki Nazm Ji Sakte Hai
 

Two Line Sad Shayari

 
शायद ये ज़माना उन्हें भी पूजेगा
लोग इसी ख़याल में पत्थर होने लगे
 
Shayad Ye Zamana Unhe Bhi Poojega

Log Isi Khayal Me Patthar Hone Lage
 
प्यार तो एकतरफा भी कर लेंगे
मगर झगडे में तुम्हारी जरुरत होगी
 
Pyaar Toh Ektarafa Bhi Kar Lenge

Magar Jhagade Me Tumhari Zarurat Hogi
 
मैंने भी उसका नम्बर ब्लॉक नहीं किया
उसने भी दुबारा कभी कॉल नहीं किया
 
Maine Bhi Uska Number Block Nahi Kiya

Usne Bhi Dobara Kabhi Call Nahi Kiya
 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 
रात भर चलती रहती है उंगलियां मोबाइल पर
सीने पर किताब रखकर सोये ज़माना हुआ
 
Raat Bhar Chalati Rehati Hai Ungaliya Mobile Par

Seene Par Kitaab Rakhkar Soye Zamana Hua
 
जिंदगी मैं भी मुसाफ़िर हूँ तेरी कश्ती का,
तू जहाँ मुझसे कहेगी मैं उतर जाऊँगा
 
Zindagi Mai Bhi Musafir Hu Teri Kashti Ka

Tu Jaha Mujhse Kahegi Mai Utar Jaunga

हुस्न के क़सीदें,तो गढ़ती रहेगी महफिलें
ग़र झुर्रियां प्यारी लगें,तो मान लेना इश्क़ है
 
Husn Ke Kaseedein To Gadhati Rahengi Mehfilein

Gr Jhurrriyaa Pyari Lage Toh Maan Lena Ishq Hai
 

Two Line Shayari Facebook

 
ठोकर से गिरोगे तो संभल जाओगे इक दिन
नज़रों से गिरोगे तो कहीं के न रहोगे - अब्बास अमरोहवी
 
Thokar Se Giroge Toh Sambhal Jaoge

Nazaron Se Giroge Toh Kahin Ke N Rahoge - Abbas Amrohawi
 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 
किसी की याद में दुनिया को हैं भुलाये हुए
जमाना गुजरा है अपना ख्याल आए हुए
 
Kisi Ki Yaad Me Duniya Ko Hai Bhulaaye Huwe

Zamana Guzra Hai Apna Khayal Aaye Hue
 
बड़ी अजीब होती है हमारी मुलाकातें
वो मतलब से मिलते है और हमें मिलने से मतलब
 
Badi Ajeeb Hoti Hai Hamari Mulakaate

Wo Matlab Se Milte Hai Aur Hamein Milne Se Matlab
 
हज़ार ज़ब्त किया, फिर भी आँख भर आई
किसी का राज़ छुपाना कोई मज़ाक़ नहीं
 
Hazaar Zabt Kiya, Phir Bhio Aankh Bhar Aayi

Kisi Ka Raaz Chupana Koi Majaak Nahi
 
इश्क़ नहीं बीतता वक़्त के साथ,
वक़्त बीत जाता है इश्क़ के साथ
 
Ishq Nahi Beetata Wakt Ke Sath

Wakt Beet Jaata Hai Ishq Ke Sath
 

Two Line Shayari Collections

 
वहीं शख्स मेरे लश्कर से बगावत कर गया
जीत कर सल्तनत जिसके नाम करनी थी
 
Wahi Shakshs Mere Lashkar Se Bagawat Kar Gaya

Jeet Kar Saltanat Jiske Naam Karni Thi
 
चाहत भी ऐसी कि,तलब बस तेरे नाम की
जिक्र तेरा,सज़दा तेरा,महक तेरे नाम की
 
Chahat Bhi Aisi Ki Talab Bas Tere Naam Ki

Zikr Tera Szada Tera Mehak Tere Naam Ki
 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 
पास वो मेरे इतने कि दूरियो का कोई एहसास नहीं
फिर भी जाने क्यों वो पास होकर भी मेरे पास नहीं
 
Pass Wo Mere Itne Ki Dooriyon Ka Koi Ehsaas Nahi

Phir Bhi Jaane Kyo Wo Pass Hokar Bhi Mere Pass Nahi
 
झुमके से कह दो गालों को चूमना छोड़ दे
इश्क रुस्वा हुआ तो कत्ल हजार होंगे
 
Jhumake Se Keh Do Gaalon Ko Choomana Chod De

Ishq Rusaw Hua Toh Katl Hazaar Honge
 
आँखों में देखी जाती हैं प्यार की गहराईयाँ,
शब्दों में तो छुप जाती हैं बहुत सी तन्हाईयाँ
 
Aankho Me Dekhi Jaati Hai Pyaar Ki Geraaiyaan

Shabdon Me Toh Chup Jaati Hai Bahut Si Tanhaaiyaan
 
कल तक सिर्फ़ एक अजनबी थे तुम,
आज दिल की एक एक धड़कन पर हुकूमत है तुम्हारी
 
Kal Tak Sirf Ek Ajanabi The Tum

Aaj Dil Ki Ek-Ek Dhadkan Par Hukumat Hai Tumhari
 
सामने बैठे रहो दिल को करार आएगा
जितना देखेंगे तुम्हें उतना ही प्यार आएगा
 
Saamnae Baithe Raho Dil Ko Karaar Aayega

Jitana Dekhenge Tumhe Utana Hi Pyaar Aayega
 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी

 
मुद्दत हुई है बिछड़े हुए अपने-आप से
देखा जो आज तुम को तो हम याद आ गए

Muddat Hui Hai Bichre Hue Apne Aap Se

Dekha Jo Aaj Tum Ko Toh Hum Yaad Aa Gaye
 
वो मुझसे बेहतर की तलाश मे निकला है
अफसोस की वो अब तक लौटा ही नहीं
 
Wo Mujhse Behatar Ki Talash Me Nikala Hai

Afsos Ki Wo Ab Tak Lauta Hi Nahi
 
तुम्हारा सिर्फ हवाओं पे शक़ गया होगा,
चिराग़ खुद भी तो जल-जल के थक गया होगा
 
Tumhara Sirf Hawao Pe Shak Gaya Hoga

Chiraag Khud Bhi Toh Jal-Jal Ke Thak Gaya Hoga
 
नही कर पाएंगे हम इजहार ए फरवरी..
तुमसे हफ्ते भर का इश्क़ थोड़े न है पण्डिताइन
 
Nahi Kar Payenge Hum Izhaar-e-Feburaury

Tumse Hafte Bhar Ka Ishq Thode N Hai Panditaain



Read More - 

Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी Two Line Shayari In Hindi | दो लाइन शायरी Reviewed by Feel neel on January 20, 2020 Rating: 5

1 comment:

Powered by Blogger.